अगर सख्त हो गई है गमले की मिट्टी, तो अपनाए यह उपाय - Tips To Loosen The Hardened Potting Soil In Hindi

अगर सख्त हो गई है गमले की मिट्टी, तो अपनाए यह उपाय – Tips To Loosen The Hardened Potting Soil In Hindi

क्या आपके पॉटेड प्लांट्स की मिट्टी में भी पानी देते समय वह मिट्टी द्वारा सोखा नहीं जाता और तुरंत ड्रेनेज होल्स से बाहर निकल जाता है? यदि हाँ, तो यह मिट्टी के कठोर या सख्त होने के लक्षण हैं। कठोर मिट्टी में पानी सोखने की क्षमता या पोषक तत्वों को बनाये रखने की कैपेसिटी भी कम या लगभग खत्म हो जाती है, जिसका बुरा प्रभाव आपके पौधों पर पड़ता है। गमले की मिट्टी में कुछ सुधार करके उसे कॉम्पैक्ट होने से रोका जा सकता है और मिट्टी को अधिक नरम और भुरभुरा बनाया जा सकता है। आज हम आपको गमले की मिट्टी कॉम्पैक्ट या संकुचित क्यों हो जाती है, कठोर मिट्टी को नरम कैसे बनाएं (how to loosen compacted soil in pots), मिट्टी को सख्त या कठोर होने के कारण तथा इसे ठीक करने के उपाय (How To Fix Compacted Soil) इत्यादि के बारे में बताने जा रहें हैं।

गमले की मिट्टी कठोर क्यों हो जाती है – Why Does Pot Soil Become Compacted In Hindi

गमले की मिट्टी कठोर क्यों हो जाती है - Why Does Pot Soil Become Compacted In Hindi

जब आपके पौधे लगे हुए गमले की मिट्टी सूखी हुई एवं छूने पर पत्थर जैसी कठोर और दरारों वाली दिखाई देती है, तो समझ जाएं की मिट्टी सिकुड़ रही है। पॉटिंग सॉइल कॉम्पैक्ट या सख्त होने के निम्न कारण हो सकते हैं (Causes Of Compact Pot Soil In Hindi):-

  1. अत्यधिक गर्मी (Excessive Heat) – गर्मियों के समय यदि आपके गमले में लगे हुए पौधे आउटडोर रखे हुए हैं, तो अत्यधिक गर्मी के चलते डिहाइड्रेशन (Dehydration) के कारण मिट्टी कठोर (Compact) हो सकती है।
  2. ओवर वाटरिंग (Over Watering) – पॉटेड प्लांट्स को रोजाना अधिक मात्रा में पानी देने से गमले की मिट्टी में पानी भरा रहने के कारण मिट्टी के पार्टिकल्स (Particles) ड्रेनेज होल्स (Drainage Holes) के अधिक पास-पास आ जाने से भी सॉइल के कॉम्पैक्ट होने की सम्भावना बढ़ जाती है।
  3. अंडरवाटरिंग (Underwatering) – जब आपकी पॉटेड सॉइल को पर्याप्त मात्रा में पानी नहीं मिलता है, तो उसमें मौजूद पीट मॉस (Peat Moss) मिट्टी की जैविक सामग्री हाइड्रोफोबिक (Hydrophobic) हो जाती है, और पानी को सोखना बंद कर देती है, जिसके कारण मिट्टी कठोर हो जाती है।
  4. पुरानी मिट्टी (Old Soil) – यदि आप पौधे लगाने के लिए गार्डन सॉइल या पुरानी मिट्टी (Old Soil) का उपयोग कर रहे हैं, तब भी मिट्टी के कण अधिक पास पास आकर कठोर मिट्टी का निर्माण कर सकते हैं।
  5. सॉल्ट फोर्मेशन (Salt Formation) – गमले में लगे पौधों को पानी देने से कई बार मिट्टी में नमक (Salt) जमा हो जाता है, जिससे मिट्टी के जलनिकासी छिद्र बंद हो जाते हैं और मिट्टी कठोर और सख्त हो जाती है।

(यह भी जानें: मिट्टी को रोग मुक्त कैसे करें……)

उपजाऊ मिट्टी व अन्य चीजें खरीदने के लिए नीचे दिए आइकॉन पर क्लिक करें:

  • Add to Wishlist
    Add to Wishlist
  • Add to Wishlist
    Add to Wishlist
  • Add to Wishlist
    Add to Wishlist
  • Add to Wishlist
    Add to Wishlist

मिट्टी को संकुचित होने से कैसे रोकें – How To Prevent Soil From Compacting In Hindi

गमले की मिट्टी का संकुचन (Potting Soil Compaction), पौधों में पोषक तत्व, पर्याप्त ऑक्सीजन और नमी की कमी का कारण बन सकता है। इन सभी कारणों से पौधा मर भी सकता है, लेकिन कुछ सावधानियों को रखते हुए आप मिट्टी को कठोर होने से रोक सकते हैं, जो निम्नलिखित हैं:

  1. गर्मियों के समय पॉटेड प्लांट्स को आंशिक धूप वाले स्थान पर रखकर मिट्टी को कठोर होने से रोका जा सकता है।
  2. पौधों को उनकी जरूरत के अनुसार पानी देकर मिट्टी को सख्त होने से बचाया जा सकता है।
  3. मिट्टी में लगातार नमी बनी रहने से भी सॉइल कॉम्पैक्ट होने से बच सकती है, इसके लिए आप गमले की मिट्टी पर मल्चिंग कर सकते हैं।
  4. अच्छी ड्रेनेज वाली पोरस पॉटिंग सॉइल (Porous Potting Soil) का उपयोग करके भी मिट्टी को कठोर होने से बचाया जा सकता है।

(यह भी जानें: सर्दियों में गार्डन की मिट्टी में सुधार कैसे करें……)

कठोर मिट्टी को ढीला करने के टिप्स – Tips For Loosening Compacted Soil In Hindi

गमले की कठोर, सघन या सख्त मिट्टी को कुछ घरेलू तरीकों को अपनाकर नरम या भुरभुरा बनाया जा सकता है। सख्त मिट्टी को नरम बनाने के लिए निम्न उपाय अपनाएं:-

कठोर मिट्टी को नरम बनाने के लिए पानी दें – Watering Is Best Way To Soften Hard Soil In Hindi

कठोर मिट्टी को नरम बनाने के लिए पानी दें - Watering Is Best Way To Soften Hard Soil In Hindi

पानी डालकर सूखी कठोर मिट्टी को नरम या भुरभुरा बनाना सबसे आसान और प्रभावी तरीकों में से एक है। अपने गमले की संकुचित और कठोर सूखी मिट्टी को नरम करने के लिए बस मिट्टी पर पानी छिड़कें, कुछ देर (लगभग 30 मिनिट) रुकें और इसे फिर से करें। लेकिन ध्यान रखें मिट्टी ज्यादा गीली न हो। इस प्रक्रिया को आपको तब तक बार-बार दोहराना पड़ सकता है जब तक मिट्टी नरम और भुरभुरी न हो जाए।

(यह भी जानें: यह संकेत बताएंगे, पौधों को नहीं मिल रहा पर्याप्त पानी……)

गार्डनिंग टूल्स खरीदने के लिए नीचे दिए आइकॉन पर क्लिक करें:

  • Add to Wishlist
    Add to Wishlist
  • Add to Wishlist
    Add to Wishlist
  • Add to Wishlist
    Add to Wishlist
  • Add to Wishlist
    Add to Wishlist

कठोर मिट्टी को नम करके रेक करें – Rake The Moist Soil To Soften Them In Hindi

कठोर मिट्टी को नम करके रेक करें - Rake The Moist Soil To Soften Them In Hindi

कई बार पॉटिंग सॉइल ज्यादा कठोर हो जाती है या सिकुड़ जाती है जिसे केवल नम करके नरम या मुलायम बनाना कठिन होता है। अगर आपके गमले की मिट्टी ज्यादा कठोर या संकुचित हो गयी है, तो इसे नम करने के बाद आपको मिट्टी रेक करनी होगी और सिकुड़ी हुई मिट्टी को रेकर की मदद से तोड़ना भी पड़ सकता है, ताकि मिट्टी जल्दी ठीक हो जाए। लेकिन इस प्रक्रिया को करते समय ध्यान रखें आपके पौधों की जड़ों को कोई नुकसान न पहुंचे। मिट्टी को रेक करने के लिए आप गार्डनिंग टूल्स जैसे- गार्डन फोर्क या हैण्ड कल्टीवेटर का उपयोग कर सकते हैं।

(यह भी जानें: मिट्टी तैयार करने के लिए करें, इन गार्डनिंग टूल्स का इस्तेमाल……)

मिट्टी की कठोरता दूर करने के लिए गुड़ाई करें – Tilling The Soil To Soften The Compacted Soil In Hindi

गमले की सिकुड़ी हुई या कठोर मिट्टी की गुड़ाई का या मिट्टी को पलटकर भी कॉम्पैक्ट सॉइल को नरम या भुरभुरा बनाया जा सकता है। पौधे लगे हुए गमले की कठोर मिट्टी को मुलायम करते समय ध्यान रखें, कि पौधों की जड़ों को कोई नुकसान न हो वरना पौधे मर सकते हैं। सावधानीपूर्वक मिट्टी की निराई-गुड़ाई करने के लिए गार्डनिंग टूल्स जैसे- हैण्ड ट्रॉवेल, गार्डन फोर्क या रबर ग्रिप खुरपा का उपयोग करना चाहिए। आप गुड़ाई करने के दौरान जितना सम्भव हो, गमले की कठोर मिट्टी को बहार निकालकर उसमें मुलायम नई मिट्टी भर सकते हैं।

(यह भी जानें: खुदाई के काम आने वाले बेस्ट हैंड गार्डनिंग टूल्स……)

गार्डनिंग टूल्स खरीदने के लिए नीचे दिए आइकॉन पर क्लिक करें:

  • Add to Wishlist
    Add to Wishlist
  • Add to Wishlist
    Add to Wishlist
  • Add to Wishlist
    Add to Wishlist
  • Add to Wishlist
    Add to Wishlist

जिप्सम डालकर मिट्टी की कठोरता दूर करें – Fix Compacted Soil By Adding Gypsum In Hindi

जिप्सम एक प्राकृतिक खनिज है, जिसे कैल्शियम सल्फेट डाईहाइड्रेट के रूप में जाना जाता है। यह समान रूप से नमी को अवशोषित कर सकता है, अतः इसे मिट्टी में मिलाकर कॉम्पैक्ट सॉइल को नरम या मुलायम बनाया जा सकता है।

ऑर्गेनिक खाद मिलाकर बनाएं कठोर मिट्टी को नरम – Improve Compacted Soil By Adding Organic Matter In Hindi

ऑर्गेनिक खाद मिलाकर बनाएं कठोर मिट्टी को नरम - Improve Compacted Soil By Adding Organic Matter In Hindi

गमले की कठोर मिट्टी को नरम या भुरभुरा बनाने का एक सामान्य तरीका, इसमें जैविक खाद या वर्मी कम्पोस्ट इत्यादि मिलाना है। इन जैविक खाद तथा मटेरियल में पोषक तत्व और विभिन्न प्रकार के लाभकारी बैक्टीरिया, केंचुए आदि पाए जाते हैं, जो मिट्टी में सुरंग बनाकर मिट्टी को नरम और भुरभुरा बनाते हैं।

(यह भी जानें: सर्दियों में पौधों की ग्रोथ के लिए बेस्ट खाद और उर्वरक……)

अगर आपके इनडोर या आउटडोर लगे हुए पौधे के गमले की मिट्टी भी सिकुड़ रही है या कठोर हो गई है, तो आप ऊपर बताए गये तरीकों को अपनाकर मिट्टी को नरम या भुरभुरा बना सकते है, इसके साथ ही मिट्टी के कॉम्पैक्ट होने के कारणों से बचकर अपनी पॉटिंग सॉइल को हेल्दी रख सकते हैं। उम्मीद है यह जानकारी आपके लिए मददगार होगी। इससे सम्बन्धित आपके कोई सवाल या सुझाव हों, तो हमें कमेन्ट में जरूर बताएं।

बेस्ट जैविक खाद खरीदने के लिए नीचे दिए आइकॉन पर क्लिक करें:

  • Add to Wishlist
    Add to Wishlist
  • Add to Wishlist
    Add to Wishlist
  • Add to Wishlist
    Add to Wishlist
  • Add to Wishlist
    Add to Wishlist

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Shopping Cart

LOG IN

Don’t Have An Account?

OR
OR

SIGN UP

OR

Resend OTP (00:30)
0
    0
    Your Cart
    Your cart is emptyReturn to Shop
    Scroll to Top